Connect with us

मिर्गी का देसी इलाज Natural Treatment for epilepsy

मिर्गी का देसी इलाज

Gharelu Nuskhe

मिर्गी का देसी इलाज Natural Treatment for epilepsy

मिर्गी का देसी इलाज – मिर्गी का नाम तो आपने सुना ही होगा। मिर्गी में रोगी को अचानक बेहोशी आ जाती है। उसके हाथ-पैर काँपने लगते हैं। मुँह से झाग आता है, शरीर में कड़ापन आ जाता है और रोगी के मस्तिष्क का संतुलन बिगड़ जाता है। ये सभी मिर्गी के लक्षण हैं और इसका इलाज करना बहुत जरुरी है।

Natural Treatment for epilepsy

आइये जान लेते हैं मिर्गी के कुछ देसी इलाज :-

मिर्गी का देसी इलाज

 
  1. मिर्गी से बेहोश हुए रोगी को लहसुन कूटकर सुंघाने से वो होश में आ जाता है। प्रतिदिन 10 कली लहसुन की दूध में उबालकर पिलाने से मिर्गी का रोग दूर होता है। किन्तु यह प्रयोग काफी समय तक करना पड़ता है। 
  2. अकरकरा 100 ग्राम और पुराना सिरका भी 100 ग्राम की मात्रा में लेकर, पहले अकरकरा को सिरके में खूब बारीक घोटें, फिर शहद मिलाकर चटनी सी बना लें. इसे 7 ग्राम की मात्रा में प्रतिदिन सुबह के समय रोगी को चटा दें। इससे मिर्गी का रोग दूर होता है। 
  3. वच को कूटपीस कर चूर्ण बना लें। प्रतिदिन 5 ग्राम की मात्रा में शहद के साथ रोगी को चटा दें। ये दवा पुरानी से पुरानी मिर्गी में फायदा करती है। 
पढ़े :  बहरा कर सकती हैं ये 6 गलतियां | 6 Hearing Loss Causes
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in Gharelu Nuskhe

To Top