Jan 13, 2021
Gas acidity treatment in hindi

Gas acidity treatment in hindi अम्ल पित्त का इलाज

अक्सर लोगों को पेट में गैस बनने की समस्या होती है. ये कोई बड़ी बीमारी नही है मगर रोगी को इससे बडी बेचनी रहती है. तो आइये इसका इलाज जान लेते हैं Gas acidity treatment in hindi की इस पोस्ट में…

अम्ल पित्त (Gas acidity) के लक्षण

संयोग विरुद्ध भोजन, पित्त को कुपित करने वाले पदार्थ, शराब, दही, उड़द आदि के सेवन सेवन से ये उत्पन्न होता है।
इसमें कड़वी या खट्टी-मीठी डकारें आती है। ऐसे में जी मिचलाना, हृदय या कंठ में जलन, उबकाई आना, शरीर में भारीपन आदि की समस्या होने लगती है। Gas acidity treatment in hindi …

 

पढ़े :  आँखों का जाला और फूला का इलाज

Gas acidity treatment in hindi अम्ल पित्त के उपाय

 

  • खाने के बाद अगर थोडा गुड़ खा लिया जाए तो हाजमा अच्छा होता है। इससे एसिडिटी की समस्या भी नहीं होती है।
  • भोजन करने के बाद दोनों समय एक – एक लौंग सुबह-शाम चूसने से अम्ल पित्त ठीक होता है।
  • नीम के पत्ते तथा आँवलों का काढ़ा बनाकर पीने से अम्ल पित्त रोग दूर होता है।
  • छोटी हरड़ का चूर्ण 2 ग्राम , शहद 2 ग्राम में मिलाकर अथवा गुड़ में मिलाकर प्रतिदिन शाम खाना खाने के बाद 3 दिन तक लें। इससे अम्ल पित्त दूर होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *