पेचिश का घरेलू उपाय – खूनी पेचिश का घरेलू उपाय 5 तरह के नुस्खे

पेचिश (Dysentery) क्या है ?

पेचिश को अंग्रेजी में Dysentery कहा जाता है। ये पेट से संबंधित होती है। इसमें रोगी को खूनी दस्त भी हो सकते हैं। सामान्य भाषा में कहें तो ये एक संक्रमण होता है जो आंतों में होता है। इसमें पेट के निचले हिस्से में काफी दर्द का अनुभव होता है। इसके फैलने की वजह ज्यादातर दूषित खाने और पीने की चीजें होती हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें ये रोग बढ़ने पर जानलेवा भी हो सकता है।

पेचिश के लक्षण

  • बार-बार मलत्याग का होना।
  • मल में खून और म्यूकस आना।
  • कभी-कभी खून की उल्टी भी हो सकती है।
  • पेट में ऐंठन का होना।
  • मल त्याग साफ नही होना।

पेचिश कितने प्रकार के होते हैं

  1. अमीवा पेचिश (Amoebic Dysentry)
  2. दंडाणुज पेचिश (Bacillary Dysentry)

पेचिश के 5 घरेलू उपचार

  1. चूने का निथरा हुआ पानी 60 मि.ली. लेकर उसमें 12 मि.ली. गर्म घी मिलाकर पी लें। इससे  पेचिश ठीक होगा।
  2. 6 ग्राम प्याज लेकर उसे 125 मि.ली. पानी में पकाएँ , थोड़ा-सा गुड़ या शक़्कर डालकर पी लें। आराम मिलेगा।
  3. 250 ग्राम सौंफ लेकर दो भाग कर लें। 125 ग्राम सौंफ को तवे पर भून लें। अब 125 ग्राम भुनी सौंफ तथा 125 ग्राम साधी सौंफ, दोनों को बारीक़ करकर कपड़छन कर लें और उसमें समभाग मिश्री मिला लें। अब इस चूर्ण की 10-12 ग्राम मात्रा (2 चम्मच) लेकर दिन में 3-4 बार पानी के साथ लें। ऑवयुक्त्त पेचिश नई-पुरानी में रामबाण का कार्य करती है।
  4. 6 ग्राम इसबगोल, 125 मि.ली. पानी में मिश्री डालकर खीर की तरह पकाएं।पेचिश ठीक होगी।
  5. बेलगिरी 10 ग्राम, सूखा धनिया 10 ग्राम और मिश्री 20 ग्राम लेकर पीस लें। एक-एक चम्मच ताजे पानी से दिन में तीन बार लें अथवा पिसा धनिया10 ग्राम और पिसी मिश्री 10 ग्राम को एक कप पानी में मिलाकर पीने से दस्त से खून जाना ठीक होता है।
ध्यान रखें– ये घरेलू उपाय है। वैसे तो इसका कोई नुक्सान नहीं होता मगर फिर भी डॉक्टरी सलाह ले लें तो ज्यादा अच्छा होगा। किसी अनहोनी के लिए हम जवाबदेह नहीं हैं।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker