Dast rokne ke upay दस्त (लूस मोशन) रोकने के घरेलू इलाज

Dast rokne ke upay दस्त (लूस मोशन) पेट से जुड़ी एक समस्या है। इसमे रोगी को बार- बार मल त्याग करने की तिव्र इच्छा होती है। इसमें रोगी का मल सामान्य नहीं होता है, मल बिल्कुल पतला या पानी की तरह निकलता है। ऐसा होने की वजह से शारीर में पानी की कमी होने लगती है। धीरे- धीरे कमजोरी आने लगती है।

दस्त निम्नलिखित कारणों से लग सकते हैं

  • घी दूध अधिक मात्रा में पी लेने से भी दस्त लग जाते हैं।
  • अक्सर बैक्टीरिया और वायरस से दस्त लग जाते हैं।
  • हार्ड दवाई खाने से भी दस्त लगने का खतरा रहता है।
  • भोजन के समय बेमेल का खा लेने पर भी लूस मोशन हो जाता है।
  • पेट और आंत की किसी बीमारी से भी ऐसा हो सकता है।
  • शराब का बहुत अधिक सेवन करने से भी लूस मोशन हो सकते हैं।
  • अगर पेट की सर्जरी कराई हो तब भी इस रोग से ग्रस्त हो सकते हैं।
  • पेट में अचानक कोई चोट या झटका लगना भी इसका कारण हो सकता है।

दस्त (लूस मोशन) होने के बहुत से और भी कारण हो सकते हैं। इस रोग में निम्नलिखित घरेलू उपचार से आराम मिलता है। तो जान लेते हैं Dast rokne ke upay के बारे में। इनमें से किसी भी एक उपाय से दस्त (लूस मोशन) ठीक हो जाएगा।

Dast rokne ke upay दस्त (लूस मोशन) रोकने के घरेलू उपाय

  1. ईसबगोल की भूसी 10 ग्राम ( दो चम्मच ), 125 मि. ली. दही में घोलकर सुबह-शाम खाने से दस्त ठीक होते हैं।
  2. एक पाव ताजा भैंस का कच्चा दूध लेकर। उसमें एक चम्मच चीनी और नींबू निचोड़े। दूध फट जाएगा। उसको हिलाकर पीने से दस्त बंद हो जाते हैं।
  3. जायफल 50 ग्राम, भांग 50 ग्राम तथा इन्द्रजौ 100 ग्राम, इन तीनों को कूट-पीसकर कपड़छन (कपड़े से छान लें) कर लें। इसके बाद  इस चूर्ण में इतनी मात्रा में शहद मिलाएँ कि यह चटनी की तरह हो जाए। इस चटनी से सब प्रकार के दस्त ठीक होते हैं।
  4. बाबुल के पत्तों का स्वरस पीने से सब प्रकार के दस्तों में लाभ होता है।
  5. बबूल के पत्ते, आम के पत्ते, आँवले के पत्तों का स्वरस प्रत्येक 2-2 ग्राम में 6 ग्राम शहद मिलाकर सेवन करने से सब प्रकार के दस्तों में  लाभ मिलता है।

तो ये थे कुछ लाभकारी घरेलू उपाय।

आपको ये Dast rokne ke upay कैसे लगे कमेंट करें।

अधिक टिप्स के लिए हमें फॉलो करते रहें।

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker