Connect with us

मोदी ने बंगाल के लिए एक हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की

news

मोदी ने बंगाल के लिए एक हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की

कोलकाता, 22 मई  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से बुरी तरह प्रभावित पश्चिम बंगाल के लिए तत्काल एक हजार करोड़ रुपये की मदद की घोषणा की है। श्री मोदी ने शुक्रवार को तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद यह घोषणा की। श्री मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य सरकार के अन्य अधिकारियों के साथ बशीरहाट में एक समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कहा, “ राज्य और केन्द्र सरकार चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित लोगों के साथ एकजुट होकर खड़ी हुई है।” श्री मोदी ने कहा, “ पूरा देश आपके साथ खड़ा हुआ है।

केन्द्र सरकार हर समय आपके साथ है। मैं आप सभी लोगों से मिलने आया था लेकिन कोविड-19 के कारण ऐसा संभव नहीं है। नुकसान कम से कम हो यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य और केन्द्र सरकार ने मिलकर काम किया है। हम करीब 70 लोगों की जिंदगी नहीं बचा सके जिसका हमें बहुत ही दुख है। दुख की इस घड़ी में हम मृतकों के परिजनों के साथ खड़े हुए हैं।

पढ़े :  कोरोना महामारी के बीच टूटी नहीं है उम्मीदों की डोर

केन्द्र की ओर से पश्चिम बंगाल को तत्काल एक हजार करोड़ रुपये की सहायता राशि मुहैया कराई जाएगी।” प्रधानमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में तूफान के कारण मरने वाले लोगों के परिजनों को केन्द्र सरकार की ओर से दो-दो लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। श्री मोदी ने कहा, “ हम एक ओर कोविड-19 जैसी महामारी का सामना कर रहे हैं तो दूसरी ओर देश के कुछ क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान के कारण पैदा हुई स्थिति है।

इस महामारी से निपटने के लिए हमें शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना होता है जबकि तूफान प्रभावित क्षेत्रों से लोगों को सुरक्षित स्थानों की ओर ले जाना भी एक चुनौती है।” प्रधानमंत्री ने गत वर्ष मई महीने में ओडिशा में आए तूफान का उल्लेख करते हुए कहा, “ मई महीने में उस समय देश चुनावों में व्यस्त था और उसी दौरान ओडिशा में एक तूफान का भी सामना करना पड़ा। अब एक वर्ष बाद तूफान के कारण हमारे तटवर्ती इलाके बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। पश्चिम बंगाल के लोग इसके कारण बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।

पढ़े :  बिहार में कोरोना से लड़ने में जुटी हैं जीविका दीदियां, रेलवे भी सक्रिय
Continue Reading
You may also like...

More in news

To Top